rashi sharma
rashi sharma 01 Oct, 2022 | 1 min read

यादों की याद.............

हर मोड़ पर हर उम्र में कोई ना कोई मिल ही जाता है, एक ऐसा दोस्त जो सवाल नहीं करता, केवल साथ निभाता है.

Reactions 1
Comments 0
204
rashi sharma
rashi sharma 30 Sep, 2022 | 0 mins read

ज़रूरत है खुद की......................

खुद के साथ दोस्ती कर लो, फिर किसी और की ज़रूरत ही नहीं पड़ेगी, भटकते रहोगे साथी की तलाश में, अंत में खुद से ही बातें होगी.

Reactions 0
Comments 0
212
rashi sharma
rashi sharma 29 Sep, 2022 | 0 mins read

खौफ हैं....................

ऐ दर्शाता है कि हम ज़िंदा है, माना कि ड़रते है बहुत चाज़ों से हम, लेकिन इसमें कोई शक नहीं, कि खौफ सिखाता है हमें कि क्या करना है या क्या नहीं.

Reactions 0
Comments 0
259
rashi sharma
rashi sharma 28 Sep, 2022 | 0 mins read

ज़िन्दगी.................

उलझनों से जोड़ती है, आज़ादी कहती तो है, मगर कैद मेंं रहना पसंद करती है.

Reactions 0
Comments 0
201
rashi sharma
rashi sharma 16 Sep, 2022 | 0 mins read

खुद से मश्वरा................

बेवकूफ नहीं समझदार बनेंगे, हम खुद की सुन खुद को मज़बूत करेंग.

Reactions 0
Comments 0
231
rashi sharma
rashi sharma 15 Sep, 2022 | 1 min read

सीख रहे है...............

Learning, learning & learning.

Reactions 0
Comments 1
231
rashi sharma
rashi sharma 13 Sep, 2022 | 0 mins read

क्या कभी सोचा है..................

खुद से खुद का सामना, झलकती हो सच्चाई तो आइना भी साथ देता है, झूठ छपा हो चेहरे पर तो, दर्पण भी खुद ब खुद चटक जाता है.

Reactions 0
Comments 0
229
rashi sharma
rashi sharma 12 Sep, 2022 | 1 min read

रेलगाड़ी और पटरी................

उसने पहुँचाया वहां जहां हम जाना चाहते थे, अब भी पहुँचा रही है हमें जहां हम जाना चाहते है, पुराना इतिहास उसका आज भी कायम है, तभी तो मशहूर है वो हर जगह, जहां अब तक ना पहुँचा कोई तेज रफ्तार साधन है.

Reactions 0
Comments 0
231
rashi sharma
rashi sharma 11 Sep, 2022 | 1 min read

ज़िद्द...............

ज़िद्द करो अच्छे के लिए करो.

Reactions 0
Comments 0
220
rashi sharma
rashi sharma 10 Sep, 2022 | 0 mins read

सौंदर्य झांक रहा है....................

सीशा भी जिससे शर्मा जाएं, उसे देख हर कोई हैरान हो जाए, बड़ा वक्त लेकर बनाया है उसे, जिसे देख चांद भी शर्मा जाए.

Reactions 0
Comments 0
212