Saket Ranjan Shukla
Saket Ranjan Shukla 29 Jan, 2024 | 1 min read
तेरी आँखें

तेरी आँखें

शीर्षक:— तेरी आँखें शर्माती हैं तो कभी नज़रें मिलाती हैं तेरी आँखें, न जाने कैसे मुझे मुझसे ही चुराती हैं तेरी आँखें, कुछ याद रह पाता नहीं, होश में दिल आता नहीं, जादुई से इशारे कर सब कुछ भुलाती हैं तेरी आँखें, चैन है न सुकून है, न लगता है दिल किसी काम में, इंतज़ार करा कराकर बेक़रारी बढ़ाती हैं तेरी आँखें, घायल हूँ, नैनों के तीर दिल जो सीधे रुह में उतर गए, फ़िर मुस्कुराकर ज़ख्मों को और बढ़ाती हैं तेरी आँखें, नाम “साकेत" का सुनते ही जो हया से झुक जाती हैं, लगता है मेरे आँखों से इकरार ही छुपाती हैं तेरी आँखें। . ✍🏻Saket Ranjan Shukla All rights reserved© . Like≋Comment Follow @my_pen_my_strength . Share if you relate⤮ Turn on the post notifications♡ . Follow The Post👇🏻 https://www.instagram.com/p/C2rAQnJJVt3/?igsh=a3htMmZuNzl4OXht . Tags👇🏻 #eyes #eyesspeak #आँखें #aankhein #romance #romantic #स्याहीकार #my_pen_my_strength

Reactions 0
Comments 0
74
Aarti Kushwah
Aarti Kushwah 27 Jan, 2024 | 1 min read

विश्वंभरा

धरणी तुम धन्य हो।

Reactions 0
Comments 0
72
Ruchika Rai
Ruchika Rai 23 Jan, 2024 | 1 min read

जय श्री राम

मेरे आराध्य राम

Reactions 0
Comments 0
94
Saket Ranjan Shukla
Saket Ranjan Shukla 22 Jan, 2024 | 1 min read

रामजन्मभूमि पर निर्मित राम मंदिर में रामलला के प्राण प्रतिष्ठा की हार्दिकहार्दिक शुभकामनाएं

रामजन्मभूमि पर निर्मित राम मंदिर में रामलला के प्राण प्रतिष्ठा की हार्दिक हार्दिक शुभकामनाएं

Reactions 0
Comments 0
71
Aarti Kushwah
Aarti Kushwah 19 Jan, 2024 | 1 min read

ठिठुरन भरी ठंड

मौसम तो प्रकृती का व्यवहार है । प्रकृती हमेशा से ही कलम को गति देने वाला विषय रहा है। हम सब जानते हैं कि मौसम में बदलाव के वैज्ञानिक कारण होते हैं परंतु कलम उसका मानवीकरण कर उसके साथ अठखेलियां करती है ।

Reactions 1
Comments 1
104
Dr. Anju Lata Singh 'Priyam'
Dr. Anju Lata Singh 'Priyam' 15 Jan, 2024 | 1 min read

"कोहरा"

कोहरा शीत ऋतु का प्रतीक है.

Reactions 0
Comments 0
68
Ruchika Rai
Ruchika Rai 13 Jan, 2024 | 1 min read

कोहरा

कुहरा

Reactions 0
Comments 0
84